RAM Full Form In Hindi ( रेम की फुल फॉर्म क्या है )

 RAM FULL FORM IN HINDI 


दोस्तों आज की इस पोस्ट में आपको बताने जा रहा हूँ RAM Ki Full Form क्या है ! RAM Kiya Hoti Hai आज में आपको बताने जा रहा हूँ 





RAM FULL FORM 

दोस्तों RAM की Full Form अंग्रेजी में Random Access Memory होता है ! 

RAM KIYA HAI 

  • इसमें सूचनाओं को लिखा (Write) तथा पढ़ा (Read) जा सकता है !
  • RAM एक मैटल ऑक्साइड सेमीकंडक्टर ( Metal Oxide Conducter : MOS ) चिप के रूप में कम्प्युटर में लगी होती है ! यह मेमोरी छोटे-छोटे स्थानों (Locations) में बंटी होती है जिसे मेमोरी स्थान (Memory Locations) कहते है ! प्रत्येक मेमोरी स्थान का एक पता ( Address) होता है जिसकी सहायता से उस स्थान पर डाटा संचित किया अथवा पढ़ा जाता है ! डाटा को मेमोरी के किसी भी स्थान से पढ़ा जा सकता है अत: इसे अनियमित अभिगमन स्मृति या रेन्डम एक्सेस मेमोरी (Random Access Memory) कहते है ! 
  • यह अस्थाई मेमोरी (Temporary) होती है !
  • यह वोलेटाइल (Volatile) होती है अर्थात इसमें सूचनाएं तब तक संचित रहती है जब तक की कंप्यूटर ON है !
  • यह दो प्रकार की होती है ! स्टैटिक (Static) RAM तथा डायनेमिक (Dynamic) RAM !


RAM के प्रकार (Types Of RAM)

सामान्यत: इस मेमोरी को दो भागों में बांटा गया है 
(1) स्टैटिक रैम (Static RAM)
(2) डायनेमिक रैम (Dynamic RAM)

(1) स्थिर रैम (Static RAM)

स्थिर रैम का आचरण ठीक वैसा ही होता है जैसा की हमने सामान्य रैम के बारे में पढ़ा है ! ये एक अस्थाई स्मृति है अर्थात इसमें संचित डाटा हम जब चाहे हटा सकते है !
यह एक परिवर्तनशील (Volatile) मेमोरी हा अर्थात इसमें संचित डाटा तब तक रहते है जब तक कम्प्यूटर चालू है या उसमे विद्युत प्रवाहित रहता है ! जैसे ही हम कम्प्यूटर बंद करते है या बिजली चली जाती है तो इसमें संचित डाटा अपने आप ही हट जाते है तथा पुन: कम्प्यूटर चालू करने पर रैम हमें एकदम खाली प्राप्त होती है !
इसका मतलब यह है की सिर्फ दो हालातों में ही रैम में स्थित डाटा हटते है- एक ,यदि हमने निर्देश देकर उन्हें हटाया हो , दूसरा कम्प्यूटर बंद हो गया हो ! यदि ये दोनों ही संभावनाएं नही हो तो रैम में डाटा लम्बे समय तक संचित करके रखे जा सकते है !

(2) गतिशील रैम (Dynamic RAM)

गतिशील रैम में कुछ विशेष प्रकार के परिपथ होते है जो की एक निश्चित समयांतराल के बाद स्वत: ही इसमें संचित सूचनाओं को हटा देते है ! इसका मतलब यह है की यदि हमने डाटा हटाने का निर्देश नही भी दिया है तथा न ही कम्प्यूटर बंद किया है तो भी इसमें संचित डाटा व सूचनाएं स्वत: ही हट जाएगी ! इसके कारण रैम अस्थाई (Temporary) तथा परिवर्तनशील (Volatile) स्मृति तो है ही ! गतिशील रैम या डी-रैम को भी कई भागो में बांटा जा सकता है जो की उनके विकसित होने के समय पर आधारित है जैसे -
(1) इडो-डीरैम (EDO-DRAM)  : Extended Data Out Dynamic RAM
(2) एस-डीरैम (S-DRAM)         : Synchronous Dynamic RAM
(3) आर-डीरैम (R-DRAM)        :Rombus Dynamic RAM